Wednesday, July 17, 2024
Homeशिकायतयोगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? (सबसे आसान तरीका)

योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? (सबसे आसान तरीका)

क्या आपका सवाल है योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं हम आपको बताएंगे कि आप योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत कैसे कर सकते हैं। इस लेख को ध्यान से पढ़ें। इसमें स्टेप बाय स्टेप आपको बताया जाएगा कि आप उत्तर प्रदेश सरकार से ऑनलाइन शिकायत कैसे कर सकते हैं।

योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत कैसे करें?

योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत करने के लिए, आपको इन निम्नलिखित चरणों का पालन कर करना होगा:

स्टेप 1. जनसुनवाई पोर्टल खोलें

जनसुनवाई पोर्टल खोलें

सबसे पहले, आप उत्तर प्रदेश सरकार के जनसुनवाई पोर्टल पर जाना है। पोर्टल को खोलने के लिए, आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं: https://jansunwai.up.nic.in/

स्टेप 2. “शिकायत ऑनलाइन दर्ज करें” बटन पर क्लिक करें।

जनसुनवाई पोर्टल खोलने के बाद “शिकायत ऑनलाइन दर्ज करें” बटन पर क्लिक करें

"शिकायत ऑनलाइन दर्ज करें" बटन पर क्लिक करें

स्टेप 3. ऑनलाइन आवेदकों नीतिया पर क्लिक करें।

ऑनलाइन आवेदकों नीतिया पर क्लिक करें

शिकायत ऑनलाइन दर्ज करें” बटन पर क्लिक करने के बाद (ऑनलाइन आवेदकों के लिए वेबसाइट नीतिया) फोम खुलेगा। आप इन्हें ध्यान से पढ़ें। पढ़ने के बाद आपको एक खाली बॉक्स दिखेगा। वहां पर क्लिक करने के बाद सही का निशान लग जाएगा। उसके बाद “सबमिट करें” बटन पर क्लिक करें।

स्टेप 4. ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल में अकाउंट बनाये।

सबमिट बटन पर क्लिक करने के बाद ऐसा एक ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल फॉर्म दिखेगा। इसमें आपको अपना मोबाइल नंबर डालकर और कैप्चा को फिल करके ओटीपी भेजें पर सबमिट करना होगा। उसके बाद आपके नंबर पर ओटीपी प्राप्त होगा। उस ओटीपी को इसमें डालकर सबमिट कर देना है आपका अकाउंट बन कर तैयार हो जायेगा।

ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल में अकाउंट बनाये

स्टेप 5. ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण फॉर्म को भरे।

ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण फॉर्म को भरे

अकाउंट बनाने के बाद ऐसा एक ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण फॉर्म खुलेगा। इस फॉर्म मे (आवेदनकर्ता का विवरण मे) अपना नाम, पिता/पति का नाम, जेंडर/लिंग, मोबाइल नंबर, ईमेल भरे और (संदर्भ के विवरण) में संदर्भ का प्रकार, विभाग, संदर्भ श्रेणी, भरे। अपने (सुझाव छेत्र की जानकारी) भरे संदर्भ का दस्तावेज या पुराने संदर्भो का विवरण भरकर “संदर्भ सुरक्षित” बटन पर क्लिक करके सबमिट कर दें। आपका सिकायत दर्ज हो जायेगा

स्टेप 6. सिकायत संख्या नोट कर लें।

शिकायत दर्ज होने के बाद आपको एक शिकायत संख्या प्राप्त होगी। आप इस शिकायत संख्या का उपयोग अपनी शिकायत की स्थिति को ट्रैक/जाँच करने के लिए कर सकते हैं। आप यह भी पढ़ सकते हैं: जिला कलेक्टर को ऑनलाइन शिकायत कैसे करें?

योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत करने के लिए यह वीडियो देख सकते हैं।

Ishan llb

अपनी शिकायत दर्ज करते समय किन बातों का ध्यान रखें?

अपनी शिकायत दर्ज करते समय, निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:

  • अपनी शिकायत को स्पष्ट और संक्षिप्त रखें।
  • अपनी शिकायत में सभी प्रासंगिक जानकारी प्रदान करें।
  • अपनी शिकायत में कोई भी आपत्तिजनक भाषा या सामग्री शामिल न करें।

यदि आपको शिकायत दर्ज करने में कोई समस्या है, तो आप उत्तर प्रदेश सरकार की जनसुनवाई पोर्टल की सहायता वेबसाइट देख सकते हैं। आप जनसुनवाई पोर्टल पर ऑनलाइन या ईमेल के माध्यम से सहायता के लिए भी संपर्क कर सकते हैं।

यहां कुछ अतिरिक्त सुझाव दिए गए हैं जो आपको योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत करने में मदद कर सकते हैं:

  • अपनी शिकायत को एक दस्तावेज़ में लिखें और इसे अपलोड करने से पहले सावधानी से जांचें।
  • अपनी शिकायत में किसी भी सबूत या दस्तावेज़ संलग्न करें जो आपकी शिकायत का समर्थन करते हैं।
  • अपनी शिकायत को नियमित रूप से ट्रैक करें और यदि आवश्यक हो तो अनुस्मारक भेजें।

ऑनलाइन आवेदकों के लिए नीतिया क्या है?

ऐसे विषय/बिंदुओं की सूची जिनको जनशिकायत नहीं माना जाएगा

  1. सूचना के अधिकार से सम्बंधित मामले
  2. मा० न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण
  3. सुझाव
  4. आर्थिक सहायता या नौकरी दिए जाने की मांग
  5. सरकारी सेवकों के सेवा सम्बन्धी प्रकरण (स्थानांतरण सहित) जब तक कि उन्होंने विभाग में उपलब्ध विकल्पों का उपयोग न कर लिया हो

शिकायत की स्थिति की जाँच कैसे करें?

शिकायत की स्थिति की जाँच कैसे करें

आप दुबारा से जनसुनवाई पोर्टल पर जाएं। “शिकायत की स्थिति” बटन पर क्लिक करें। एक फॉर्म खुलेगा। वहाँ आप अपना शिकायत संख्या और मोबाइल नंबर या केवल ईमेल आईडी डाल कर चेक कर सकते हैं। यहाँ से आपके शिकायत पर क्या एक्शन लिया गया है। आप पता लगा सकते हैं।

समय पर कार्यवाही ना होने पर क्या करें?

समय पर कार्यवाही ना होने पर क्या करें

समय पर कार्यवाही ना होने पर आप दुबारा कार्यवाही के लिए अनुरोध भेज सकते हैं। इसके लिए दुबारा से आपको फॉर्म सबमिट करने की जरूरत नहीं है। आप दुबारा से जनसुनवाई पोर्टल पर जाएं। वहां पर “अनुस्मारक भेजें” बटन दिखाई देगा। उस बटन पर क्लिक करें। उसके बाद फॉर्म खुलकर आ जायेगा। फॉर्म मे जो आपको शिकायत संख्या मिला था। उस संख्या को डाल कर दुबारा कार्यवाही के लिए भेज सकते हैं।

निष्कर्ष

मुझे विश्वास है कि योगी आदित्यनाथ से ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? विषय पर आपको पूरी जानकारी मिली है। इस पोस्ट को अपने मित्रो के साथ जरूर शेयर करें क्योंकि उनको भी इसके बारे में जानकारी होगी। अगर आपके मन में कोई सवाल है तो 🙏प्लिज़ हमें जरूर बताएँ। हम आपके सवाल का जवाब जल्द से जल्द देंगे। धन्यबाद

Mobile.5g.in
Mobile.5g.inhttps://mobile.5g.in
Mobile.5g.in दुनिया का एक अग्रणी मोबाइल रिव्यू पोर्टल है। आप स्मार्टफोन की रिलीज़ डेट, कीमत, स्पेसिफिकेशन, फीचर्स, समीक्षा और अफवाह वाली खबरें जैसी सभी मोबाइल जानकारी पा सकते हैं।
RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular